ईसाई लड़की बोली- प्यार के लिए UAE गई, आतंकी बनने नहीं

नई दिल्ली। भारत छोड़कर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाने वाली ईसाई युवती ने कहा है कि वह भारत से यूएई आतंकवादी समूह में शामिल होने के लिए नहीं बल्कि अपने प्यार के लिए गई है।

बता दें कि 19 वर्षीय युवती ने अबूधाबी जाकर इस्लाम धर्म अपना लिया है और अपना नाम सियानी बेनी से बदल कर आएशा रख लिया है। 

युवती सियानी बेनी के अभिभावक ने दिल्ली में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी जिसमें कहा गया था कि उनकी बेटी का अपहरण किया गया है। बेनी के कॉलेज के साथियों ने भारत के मुख्य न्यायाधीश को दी एक अर्जी में कहा, ‘दुनियाभर में तबाही मचाने वाली ताकतों द्वारा एक भारतीय नागरिक का अपहरण कर लिया गया है।’

वहीं, युवती ने गल्फ न्यूज से रविवार को कहा, ‘यह सच नहीं है। मैं अपनी मर्जी से अबू धाबी आई हूं। किसी ने मेरे साथ जबरदस्ती नहीं की। मैं भारत की एक वयस्क नागरिक हूं और अपना निर्णय ले सकती हूं।’

Related News

Leave a Comment